in

Did Jawahar Lal Nehru want China in the United Nations not India? (BBC Hindi)

चीन ने आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के संस्थापक मसूद अज़हर को संयुक्त राष्ट्र से वैश्विक आतंकी घोषित नहीं होने दिया. संयुक्त राष्ट्र के सुरक्षा परिषद में चीन स्थायी सदस्य है और उसने फ़्रांस के प्रस्ताव पर वीटो कर दिया. क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अपनी प्रेस कॉन्फ़्रेंस में नौ जनवरी 2004 की ‘द हिन्दू’ की एक रिपोर्ट की कॉपी दिखाते हुए कहा कि भारत के पहले प्रधानमंत्री नेहरू ने संयुक्त राष्ट्र में सुरक्षा परिषद की सीट लेने से इनकार कर दिया था और इसे चीन को दिलवा दिया था.

आवाज़: नवीन नेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading…

0

Comments

Rafale Deal Case: लीक दस्तावेजों को लेकर SC ने फैसला सुरक्षित रखा | LeftNews.in

Modi Talks About 'Enemies Within'. Who Are They?